Friday, 25 March 2016

यूपी के मुख्य सचिव का कार्यकाल 3 माह बढ़ा

लखनऊ. यूपी के मुख्य सचिव आलोक रंजन का कार्यकाल तीन माह आैर बढ़ गया है। केंद्र सरकार ने यूपी काडर के 1978 बैच के प्रदेश में तैनात वरिष्ठतम आईएएस अधिकारी आलोक रंजन को मुख्य सचिव पद पर तीन माह का सेवा विस्तार दे दिया है। वे 31 मार्च को रिटायर होने वाले थे। यूपी सरकार को केंद्रीय कार्मिक मंत्रलय से पत्र मिलने के बाद राज्य के नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग ने सेवा विस्तार का आदेश जारी कर दिया है। अब वे 30 जून तक अपने पद पर बने रहेंगे।
एेसी पहले से चर्चा थी की सीएम अखिलेश यादव मुख्य सचिव का कार्यकाल बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखेंगे आैर एेसा ही हुआ सीएम ने उनके कार्यकाल के विस्तार के लिए पीएम को पत्र लिखा था। अब सेवा विस्तार मिलने के बाद मुख्य सचिव आलोक रंजन ने गुरुवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से उनके सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग पर मुलाकात कर उनका आभार जताया। साथ ही होली की शुभकामनाएं दीं।

सीएम चाहते थे

मुख्य सचिव की कार्य शैली आैर उनके व्यवहार से सीएम अखिलेश यादव खुश हैं, इसीलिए सीएम चाहते थे की मुख्य सचिव आलोक रंजन का कार्यकाल आैर बढ़ाया जाए। इसीलिए सीएम ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। सीएम के अनुरोध को मानते हुए पीएम मोदी ने केंद्रीय कार्मिक मंत्रलय के सेवा विस्तार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अपने कार्य और व्यवहार के आधार पर सेवा विस्तार पाने वाले आलोक रंजन उत्तर प्रदेश के पहले मुख्य सचिव हैं। जबकि इनसे पहले तत्कालीन सीएम मुलायम सिंह ने तत्कालीन मुख्य सचिव अखंड प्रताप सिंह के सेवा विस्तार के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखा था, लेकिन मामला सुप्रीम कोर्ट चले जाने के कारण सेवा विस्तार से पहले ही अखंड प्रताप सिंह तय समय पर रिटायर हो गए।
SOURCE - patrika.